देवनागरी
Roman
Press F12 to toggle

वीर जवान

तुमने तब तब छेद किये है, जब जब हमने थाल... शनिवार, १३ सप्टेंबर २०१४, १०:२५ (+०५:३०)

Narendra Prabhu Narendra Prabhu नरेन्द्र...

ओ जन्नत
के वाशिंदों,अब क्यों इतने लाचार हुए,
कहाँ तुम्हारी पत्थर ईंटे,कहाँ सभी हथियार हुए,
कहाँ गया जेहाद तुम्हारा,पाक परस्ती कहाँ गयी,
कहाँ गए वो चाँद सितारे,नूरा कुश्ती कहाँ गयी,
कहाँ गयी ...